गिरवी रखी गई प्रॉपर्टी को कैसे बेचें ?

गिरवी रखी गई प्रॉपर्टी को कैसे बेचें ?

STEP 1: बैंक के पास रहते हैं दस्‍तावेज

प्रॉपर्टी पर लोन के मामले में बैंक और वित्‍तीय संस्‍थान अमूमन इसे अपने पास गिरवी रखते हैं. जब तक लोन लेने वाला व्‍यक्ति बैंक का बकाया लौटा नहीं देता है तब तक प्रॉपर्टी गिरवी रहती है. ऐसा हो सकता है कि कोई प्रॉपर्टी के गिरवी रहने के दौरान इसे बेचना चाहता हो. चूंकि लोन बंद हो जाने तक प्रॉपर्टी के सभी ओरिजनल डॉक्‍यूमेंट्स बैंक की कस्‍टडी में होते हैं. ऐसे में गिरवी रखी गई प्रॉपर्टी को बेचने के लिए खास तरीका अपनाना पड़ता है. आइए, यहां उसके बारे में देखते हैं.

STEP 2: बनवाना पड़ेगा ‘लोन आउटस्‍टैंडिंग’ लेटर

सबसे पहले प्रॉपर्टी बेचने वाले को बैंक के पास आवेदन करना होगा कि वह लोन आउटस्‍टैंडिंग लेटर जारी करे. इस लेटर में बताया जाता है कि अभी कितना लोन बकाया है और बैंक की कस्‍टडी में प्रॉपर्टी के कौन से दस्‍तावेज हैं.

STEP 3: ​खरीदार कैसे करता है पेमेंट?

संभावित खरीदार को लेटर में बताई गई लोन की बकाया रकम के बराबर पेमेंट करने की जरूरत होती है. उसे लोन को बंद करने का भी आवेदन करना पड़ता है.

STEP 4: नो ड्यूज सर्टिफिकेट के लिए आवदेन कैसे किया जाता है?

पेमेंट और लोन को बंद करने का आवेदन मिल जाने के बाद बैंक लोन के संदर्भ में ‘नो ड्यूज सर्टिफिकेट’ जारी करते हैं. प्रॉपर्टी के डॉक्‍यूमेंट भी मकान मालिक को वापस कर दिए जाते हैं.

STEP 5: सेल ट्रांजेक्‍शन

एक बार नो ड्यूज सर्टिफिकेट और ओरिजनल प्रॉपर्टी डॉक्‍यूमेंट हासिल कर लेने के बाद प्रॉपर्टी बेचने का इच्‍छुक व्‍यक्ति बिक्री कर सकता है और प्रॉपर्टी खरीदार के नाम ट्रांसफर कर सकता है.

STEP 6: किन बातों का रखें ध्‍यान?

-इस तरह के लेनदेन को पूरा करने का एक और विकल्प है. वह यह है कि बैंक से कहा जाए कि वह पहले ग्राहक (घर बेचने वाला) से संभावित ग्राहक को लोन ट्रांसफर कर दे.
-वैसे तो प्रॉपर्टी के ओरिजनल डॉक्‍यूमेंट उपलब्‍ध नहीं होते हैं. लेकिन, सौदा शुरू करने के लिए दस्‍तावेजों की स्‍कैन की गई प्रतियों का इस्‍तेमाल किया जा सकता है.

इस पेज की सामग्री सेंटर फॉर इंवेस्टमेंट एजुकेशन एंड लर्निंग (सीआईईएल) के सौजन्य से. गिरिजा गादरे, आरती भार्गव और लब्धि मेहता का योगदान.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *